बाजार विश्लेषण

बाजार चाल के पूर्वानुमान का विश्लेषण करने के लिए दो शैलियां हैं: मौलिक और तकनीकी विश्लेषण.

मौलिक विश्लेषण:

एक मुद्रा जोड़ी के भीतर रुझान का निर्धारण करने के लिए मौलिक विश्लेषण बहुत उपयोगी होते हैं. देशों को प्रभावित करने वाले दीर्घकालिक आर्थिक कारकों पर ध्यान केंद्रित करके, मौलिक विश्लेषण लंबी अवधि के रुझान की भविष्यवाणी करता है.

उदाहरण: EUR/USD
जब डॉलर कमजोर होगा, EUR/USD उठेगा. यदि USD संभालता है तब एक मजबूत विदेशी मांग EUR/USD को और गिरा देगी. यदि आपको लगता है कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था कमजोर हो जाएगी और अमेरिकी डॉलर को हानि पहुंचायेगी, आप EUR को खरीद और USD को बेच सकते हैं. यदि आपको लगता है कि इक्विटी तथा ट्रेजरी जैसे अमेरिकी वित्तीय साधनों के लिए विदेशी मांग बढ़ेगी जो अमेरिकी डॉलर को मजबूत करेगी, आप EUR को बेच और USD को खरीद सकते हैं क्योंकि आपको उम्मीद है कि यूरो डॉलर के मुकाबले कमजोर होगा.

मौलिक विश्लेषण के अधिक उदाहरणों के लिए, कृपया हमारे आर्थिक कैलेंडर को देखें..

तकनीकी विश्लेषण:

तकनीकी विश्लेषण का उद्देश्य रुझानों तब पता लगाना है जब वे पहली बार विकसित होते हैं, जो कि ट्रेडर को उनकी समाप्ति तक उनका अनुसरण करने में सक्षम बनाता है. विदेशी मुद्रा बाजार में रुझानों की काफी अहमियत होती है और इसलिए यहां तकनीकी विश्लेषण काफी प्रभावी हो सकता है.
तकनीकी विश्लेषण ट्रेडर्स को बाजार की जानकारी का विश्लेषण करने के लिए कई अलग अलग तरीके प्रदान करता है.

तकनीकी विश्लेषण के बारे में अधिक जानकारी के लिए कृपया हमारे ट्रेडिंग सेंट्रल को देखें. आप लॉग इन करने के बाद उसको देख सकते हैं. सबसे ऊपर के बार पर जाएं और टूल्स मेनू के तहत तकनीकी विश्लेषण का चयन करें.

यदि आपके पास तकनीकी या मौलिक विश्लेषण के बारे में प्रश्न हैं या फॉरेक्स ट्रेडिंग के बारे में अधिक जानकारी चाहते हैं, तो कृपया आज ही XForex से संपर्क करें और फॉरेक्स बाजार में ट्रेडिंग की शुरुआत करें.